Tuesday, February 21, 2012

नदी ....

नदी
चाहे जितनी शक्तिशाली हो
कितनी वेगवती
चाहे तूफ़ान मचा दे
तबाह कर दे पूरी कायनात को
पर,
ढलान के विरुद्ध
एक इंच नहीं ससर सकती
नदी ...

2 comments: